Monday , July 4 2022
Home / Panchkula / 103 में से किया 90 रक्तदानियों ने पीएचसी मोरनी में रक्तदान

103 में से किया 90 रक्तदानियों ने पीएचसी मोरनी में रक्तदान

मोरनी/पंचकूला :-  पीएचसी मोरनी व विश्वास फाउंडेशन पंचकूला ने संयुक्त रूप से मिलकर प्राथमिक हेल्थ सेंटर मोरनी के प्रांगण में रक्तदान शिविर का आयोजन किया। इस शिविर इंडियन रेडक्रॉस सोसाइटी ज़िला शाखा पंचकूला ने एहम भूमिका निभाई। शिविर सुबह 10 बजे शुरू हुआ और दोपहर 2 बजे तक चला।
विश्वास फाउंडेशन की महासचिव साध्वी नीलिमा विश्वास ने बताया कि शिविर का उद्घाटन पीएचसी में कार्यरत डॉक्टर उज्ज्वल सिंह के करकमलों द्वारा किया गया। ब्लड बैंक सिविल अस्पताल सेक्टर 6 पंचकूला की टीम ने डॉक्टर अमित सम्मी की देखरेख में 90 यूनिट्स रक्त एकत्रित किया। डॉक्टरों द्वारा 13 को स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतों के कारण रक्तदान करने से मना कर दिया गया।
डॉक्टर उज्ज्वल सिंह ने बताया कि लोगों में यह भ्रम है कि रक्तदान करने से शरीर में कमजोरी आती है। रक्तदान के कारण कोई कमजोरी नहीं आती, बल्कि सभी को 90 दिन में एक बार अवश्य ही रक्तदान करना चाहिए। इससे जरूरतमंदों को मदद मिलती है साथ ही शरीर स्वस्थ रहता है। रक्तदान जैसा पुनीत काम सबसे बड़ी सेवा में आता है।
रक्त ही एकमात्र ऐसा पदार्थ है जिसका निर्माण किसी फैक्ट्री में नहीं किया जा सकता। केवल स्वयं अपनी मर्जी से रक्तदाताओं द्वारा रक्तदान करने से ही रक्त की कमी पूरी की जा सकती है। पहले रक्तदान जब जरूरत होती थी तब किया जाता था। अब तो कई लोग ऐसे भी हैं, जो जन्मदिन और शादी की सालगिरह पर भी रक्तदान करते हैं। रक्तदान जीवन का सबसे बड़ा दान है, जिससे मनुष्य ना जाति देखता है ना धर्म देखता। यह मनुष्य के लिए जीवन का सबसे पुनीत कार्य है। हमारी संस्था का प्रयास रहता है कि रक्त की कमी ना हो पाये। रक्तदान करके ही हम जरूरतमंदों की जान बचा सकते हैं।
शिविर में रक्तदान करने आए सभी रक्तदाताओं को प्रशंसा पत्र व गिफ्ट देकर प्रोत्साहित किया गया। इस अवसर पर विश्वास फाउंडेशन से मुलखराज मनोचा, सुनीता मनोचा, श्याम सुन्दर साहनी, सविता साहनी व पी एच सी स्टाफ से स्वरूप सिंह, संदीप कुमार, सुनील कुमार, एम्बुलेंस चालकों और ई एम टी स्टाफ ने रक्तदान किया व शिविर को सफल बनाने में भी सहयोग किया।

About Jagdeep Singh

Check Also

BS HOODA IS LEADER OF OPPOSITION (LoP)  IN HARYANA ASSEMBLY SINCE  NOV, 2019 HOWEVER NO NOTIFICATION ISSUED TILL DATE 

ADVOCATE WRITES TO SPEAKER & STATE GOVT URGING NOTIFICATION AS POST IS STATUTORY EQUIVALENT IN …