Saturday , July 2 2022
Home / COVER STORY / ब्रम शंकर जिम्पा द्वारा रात को नहरों की जाँच; किसानों को टेलों पर पानी पहुँचने की उम्मीद जागी

ब्रम शंकर जिम्पा द्वारा रात को नहरों की जाँच; किसानों को टेलों पर पानी पहुँचने की उम्मीद जागी

जल संसाधन मंत्री द्वारा अधिकारियों को सभी अवैध मोघे बंद करके टेलों पर पूरा पानी पहुँचाए जाने की दी हिदायत
नहरी पानी की चोरी बर्दाश्त नहीं की जाएगी: जिम्पा

फाजिल्का, 14 मई (प्रेस की ताकत बयूरो)- पंजाब के जल संसाधन मंत्री श्री ब्रम शंकर जिम्पा द्वारा शुक्रवार रात को नहरों की जाँच के बाद जलालाबाद और फाजिल्का क्षेत्र की नहरों के टेलों पर कृषि करने वाले किसानों को पूरा पानी मिलने की आशा बंधी है। कैबिनेट मंत्री ने इस मौके पर कहा है कि अवैध नहरी मोघे और मोघों की तोड़-फोड़ किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं की जाएगी और उन्होंने अधिकारियों को हिदायत की कि तुरंत अवैध मोघे बंद किए जाएँ।
कैबिनेट मंत्री ने कहा कि नहरी पानी को सभी हिस्सेदार किसानों के बीच बराबर बाँटे जाने को सुनिश्चित बनाया जाएगा और अवैध मोघे लगाकर, या मोघे तोडक़र या अवैध ढंग से पाईपें लगाकर पानी की चोरी करने वालों के खि़लाफ़ कानून के अनुसार सख़्त कार्रवाई की जाएगी।
वह बीती रात जलालाबाद और फाजिल्का हलके की नहरों का दौरा करके किसानों की नहरी पानी सम्बन्धी समस्याएँ सुन रहे थे। इस मौके पर उनके साथ जलालाबाद के विधायक श्री जगदीप कम्बोज गोल्डी, फाजिल्का के विधायक श्री नरिन्दर पाल सिंह सवना, बल्लूआना के विधायक श्री अमनदीप सिंह गोल्डी मुसाफिर, डिप्टी कमिश्नर डॉ. हिमांशू अग्रवाल, एसएसपी स. भुपिन्दर सिंह सिद्धू भी उपस्थित थे।
कैबिनेट मंत्री ने इस मौके पर स्वयं नहरों के अंदर घुसकर नहरों में लगे मोघों का मुआइना किया और मौके पर ही अधिकारियों को ताडऩा की कि राज्य में अब निज़ाम बदल चुका है। अब राज्य के आम लोगों की सरकार है, इसलिए पानी की चोरी करने वाले प्रभावशाली लोगों पर तुरंत कार्रवाई करते हुए ऐसे सभी अवैध मोघे तुरंत बंद किए जाएँ, जिससे टेलों तक पूरा पानी पहुंच सके। उन्होंने गाँव खूंड वाला सैणियां, गाँव बाहमनी वाला के पास, और लाधूका में किसानों की नहरी पानी की मुश्किलें सुनी और अलग-अलग स्थानों पर रुक कर नहरों का स्वयं निरीक्षण किया।
इस मौके पर किसान जहाँ अपनी मुश्किलें कैबिनेट मंत्री के समक्ष रख रहे थे, वहीं वह इन बातों पर हैरान भी थे कि आधी रात को भी कोई मंत्री उनकी नहरों पर पहुंच कर उनके दुखड़े सुन सकता है।
श्री ब्रम शंकर जिम्पा ने इस मौके पर अधिकारियों को स्पष्ट हिदायत की कि मुख्यमंत्री स. भगवंत मान की सरकार के लिए आम लोग ही असली ताकत हैं और यदि किसी ने भी लोगों को उनके बनते हक देने में कोताही की तो उसके खि़लाफ़ कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने इस मौके पर किसानों को आश्वासन दिया कि अवैध मोघे बंद करके, नहरों की सफ़ाई करवा कर नहरों में किसानों को पूरा पानी मिलेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि जहाँ कहीं नई नहरों के प्रोजैक्ट तैयार करने पड़ें, सरकार वह भी करेगी।

About admin

Press Ki Taquat(Daily Punjabi Newspaper) Patiala

Check Also

मुख्यमंत्री द्वारा ठेके के आधार पर काम कर रहे सभी योग्य कर्मचारियों की सेवाएं रेगुलर करने के लिए तीन सदस्यीय कैबिनेट कमेटी का गठन

कैबिनेट कमेटी कानूनी विशेषज्ञों की सलाह के साथ नया मसौदा बिल के कानूनी पहलुओं की …