Saturday , July 2 2022
Home / Ambala / व्यापार करते समय दया मत करोऔर सेवा करते समय व्यापार मत करो

व्यापार करते समय दया मत करोऔर सेवा करते समय व्यापार मत करो

एक सेठ-जी के पास एक ग्राहक कुछ समान लेने के लिए आया। उसने जितने का समान लिया उसमें 10 रूपये कम पड़ गए तो सेठ-जी ने कहा कुछ समान कम कर देता हूँ, हम उधार नहीं देते। ग्राहक को सेठ-जी की बात बहुत ही बुरी लगी, बोला कि मेरे घर में तीन-दिन से खाना नहीं बना मेरा पूरा परिवार भूखा है और आपको रूपयों की पड़ी है। सेठ-जी ने कहा 5 मिनट रूको, घर से सेठानी को बोलकर भोजन की एक शानदार थाली लगवाकर ले आए और बोले पहले भोजन करो तथा जाते समय कुछ भोजन बच्चों के लिए भी ले जाना। उस व्यक्ति के जाने के बाद जब सेठ-जी के बच्चों ने पूछा पिता जी ये कैसा व्यवहार, 10 रूपये कम पड़ने पर तो आपने उनका समान कम कर दिया और बाद में भरपेट भोजन तो करवाया ही साथ में और भोजन भी बांध दिया। आखिर ऐसा क्यों…. सेठ भी ख़ानदानी था बोला बच्चों हमेशा ये सीख याद रखना….
व्यापार करते समय दया मत करोऔर सेवा करते समय व्यापार मत करो

About admin

Press Ki Taquat(Daily Punjabi Newspaper) Patiala

Check Also

मुख्यमंत्री द्वारा ठेके के आधार पर काम कर रहे सभी योग्य कर्मचारियों की सेवाएं रेगुलर करने के लिए तीन सदस्यीय कैबिनेट कमेटी का गठन

कैबिनेट कमेटी कानूनी विशेषज्ञों की सलाह के साथ नया मसौदा बिल के कानूनी पहलुओं की …