Thursday , August 18 2022
Home / INDIA / 20 हजार से अधिक लोगों ने पंचामृत शिविर का लाभ लिया

20 हजार से अधिक लोगों ने पंचामृत शिविर का लाभ लिया

छिंदवाड़ा(भगवानदीन साहू)- शक्ति ट्रस्ट एवं सँस्कृत पुस्तकोन्नति सभा द्वारा संचालित संत श्री आशारामजी आश्रम खजरी में जारी 5 दिवसीय पन्चामृत शिविर का आज समापन हुआ । यह आयोजन श्री योग वेदांत सेवा समिति के तत्वावधान में सम्पन्न हुआ । शिविर में विश्व प्रसिद्ध वक्ता रेखा बहन (अहमदाबाद) के साथ सुशीला बहन और बालयोगी नारायण मुख्य रूप से उपस्थित हुए । 5 दिनों में लगभग 10 सत्र आयोजित किये गए। इसके अलावा विद्यार्थियों और ऋषि प्रसाद सेवाधारी भाई बहनों के लिए अलग-अलग सत्र आयोजित हुए । सत्संग शिविर में रेखा बहन ने बताया कि छिंदवाड़ा के साधकों की सेवा पूरे विश्व में अग्रणी है । पूज्य बापूजी के आशीर्वाद से अचानक यहाँ आगमन हुआ । समिति वालों को प्रचार- प्रसार का समय भी नही मिला और वर्षा ऋतु के अलावा स्थानीय चुनाव भी थे फिर भी हजारों की संख्या में श्रद्धालु भक्त उपस्थित हुए। पूरे देश-विदेश में हमारे सत्संग कार्यक्रम आयोजित होते हैं। कई लोग पूछते हैं दीदी पूज्य बापूजी जोधपुर से कब बहार आएंगे उनके खिलाफ पूरा फर्जी प्रकरण है । तो मुझे बताना पड़ता हैं कि भगवान श्री राम और श्री कृष्ण अवतारी पुरुष थे । फिर भी श्री राम जी 14 वर्ष का वनवास गए । उनके वनवास से लाखों लोगों का कल्याण होना था जैसे हनुमान जी सुग्रीव , सबरी , जामवंत , विभीषण , आदि। नए धर्म की स्थापना करनी थी । ऐसे ही पूज्य बापूजी भी अवतारी महापुरुष हैं। उनके रहते ही भारत विश्वगुरु बनेगा । सन्तों की अपनी लीला होती है , मौज होती है। जिसे हम लोग समझ नही पाते हैं। गत कुछ वर्षों में हमारे देश का हमारी सनातन संस्कृति का गौरव पूरे विश्व में बढ़ा है । पूरी दुनिया के लोग 14 फरवरी “मातृ- पितृ पूजन दिवस” मनाने लगे हैं। 25 दिसम्बर – “तुलसी पूजन दिवस ” के रूप में पूरा विश्व मना रहा है । एक सर्वे के अनुसार कोरोनाकाल में आम लोगों की सेवा सबसे अधिक पूज्य बापूजी के साधकों ने की । पूरे देश में 550 आश्रमों और 2200 समितियों , सैकड़ों गुरुकुलों में आज भी लाखों लोगों का आवागमन हो रहा है। जगह – जगह सत्संग भण्डारे हो रहें हैं। आज भी पूज्य बापूजी को करोड़ों – करोड़ों लोग मान रहें हैं , यह चमत्कार नही तो क्या है । समिति ने सभी साधक भक्तों के लिए आवास , भोजन एवं आवागम की उचित व्यवस्था की गई थी । कार्यक्रम में लगभग 20 हजार से अधिक लोगों ने उपस्थित दर्ज की । पूरे कार्यक्रम का मंगलमय डिजिटल चैनल पर लाइव प्रसारण दिखाया गया। यह जिलेवासियों के लिए सौभाग्य की बात है। हमें एक साथ पांच प्रसिद्ध वक्ताओं का लाभ मिला । जिसमें साध्वी रेखा बहन (अहमदाबाद वाले) , सुशीला बहन , बालयोगी नारायण , साध्वी रेखा बहन और साध्वी प्रतिमा बहन मुख्य है। कार्यक्रम में समिति के अध्यक्ष मदनमोहन परसाई , खजरी आश्रम के जयराम भाई , गुरुकुल की संचालिका दर्शना खट्टर , युवा सेवा संघ के अध्यक्ष दीपक दोईफोड़े , सुभाष सुखेजा , महेश चुगलानी , शंकरलाल झामनानी ,सुजीत सूर्यवंशी , विशाल चवुत्रे , महिला समिति से सुमन दोईफोड़े , डॉ. मीरा पराडकर , छाया सूर्यवंशी , करुणेश पाल , शकुंतला कराडे , योगिता पराडकर , निर्मिला पटेल , मीना मेश्राम , शोभा भोजवानी , दीपा डोडानी , आदि ने अपनी- अपनी सेवाएं दीं। समिति के अध्यक्ष मदनमोहन परसाई ने इस ऐतिहासिक कार्यक्रम में सहयोग हेतु स्थानीय मीडिया एवं जिला प्रशासन , जनप्रतिनिधियों का आभार व्यक्त किया।

About Sushil Parihar

Check Also

पटियाला जेल से रिहा हुए बिक्रम सिंह मजीठिया

पटियाला , 10 अगस्त (प्रेस की ताकत बयूरो)- मादक पदार्थ के मामले में पटियाला जेल …